CDP Question for CTET | Child Development And Pedagogy MCQ |बाल विकास और शिक्षाशास्त्र 30 + महत्वपूर्ण प्रश्न 

 CDP Question for CTET MCQ In Hindi बाल विकास के महत्वपूर्ण प्रश्न – की इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको बाल विकास और शिक्षाशास्त्र 30 महत्वपूर्ण प्रश्न ( Most Important MCQ ) लेकर आये हैं जो आपको हर तरीके की प्रतियोगिता परीक्षाओं में पूछे जाते हैं जैसे CTET, UPTET, MPTET, REET, UTET आदि के लिए आपको ये महत्वपूर्ण प्रश्न काम आने वाले हैं।

CTET में आपको 30 Marks का CDP पूछा जाता है इसके अलावा अन्य तीन विषय में भी आपको बाल विकास से सम्बंधित आधे प्रश्न दिए जाते हैं। देखा जाए तो इन exam में Child Devlopment and Pedagogy के सबसे अधिक प्रश्न पूछे जाते हैं ।

CDP question for CTET

Child Development And Pedagogy MCQ |

बाल विकास और शिक्षाशास्त्र 30 महत्वपूर्ण प्रश्न

1. बाल्यकाल होता है

( 1 ) जन्म से लेकर 3 वर्ष की आयु तक

(b ) तीसरे वर्ष से लेकर 6 वर्ष की आयु तक

(c) छठे वर्ष से लेकर 12 वर्ष की आयु तक

(d ) दूसरे वर्ष से लेकर 10 या 12 वर्ष की आयु तक

Ans : (c ) बाल विकास को सामान्य रूप से चार अवस्थाओं से होकर गुजरना पड़ता है

शैशवावस्था जन्म से 5 या 6 वर्ष तक

बाल्यावस्था 5 या 6 वर्ष से 12 वर्ष तक

किशोरावस्था 12 वर्ष से 18 वर्ष तक

प्रौढावस्था- 18 वर्ष से 40 वर्ष तक

2. निम्नलिखित में से कौन सा आयु समूह परवर्ती बाल्यावस्था श्रेणी के अन्तर्गत आता है ?

(a ) 11 से 18 वर्ष

(b ) 18 से 24 वर्ष

(c) जन्म से 6 वर्ष

(d) 9 से 12 वर्ष

Ans : (d ) परवर्ती बाल्यावस्था की आयु 9 से 12 वर्ष तक मानी जाती है। इस आयु में शरीरिक विकास की गति कुछ धीमी हो जाती है परन्तु इस अवधि में शरीरिक विकास दृढ़ता की ओर उन्मुख होता है। यही कारण है कि 9 से 12 वर्ष की अवधि को परिपाक काल भी कहते हैं।

3. स्व केन्द्रित अवस्था होती है बालक के

( a ) जन्म से 2 वर्ष तक

(b ) 3 से 6 वर्ष तक

(c) 7 वर्ष से किशोरावस्था तक

(d) किशोरावस्था में

Ans : (b ) जन्म से 6 वर्ष तक की अवस्था को शैशवावस्था कहा जाता है। शैशवावस्था का अन्तिम चरण 36 वर्ष जिसे पूर्व बाल्यावस्था भी कहते हैं। ऐसे बालक स्वयं की खुशी की चिंता करते है। इसलिए इस अवस्था को स्वकेन्द्रित अवस्था भी कहा जाता है।

4. विकास की किस अवस्था में बुद्धि का अधिकतम विकास होता है ?

(a) बाल्यावस्था

(b ) शैशवावस्था

(c) किशोरावस्था

(d) प्रौढ़ावस्था

Ans : (c ) किशोरावस्था में बुद्धि का अधिकतम विकास हो जाता है। इस अवस्था में बालकों की कल्पनाशक्ति, जिज्ञासा, बौद्धिक क्षमता काफी बढ़ जाती है।

5. निम्न में कौन सा शारीरिक विकास का एक प्रमुख नियम है ?

(a) मानसिक विकास से भिन्नता का नियम (b) अनियमित विकास का नियम

(c) द्रुतगामी विकास का नियम

(d) कल्पना और संवेगात्मक विकास से सम्बन्ध का नियम

Ans : (b ) अन्य प्राणियों की अपेक्षा मनुष्य के शारीरिक विकास की गति धीमी तथा अनियमित होती है। शैश्वावस्था में शारीरिक वृद्धि एवं परिवर्तन तीव्रतम गति से होता है। बाल्यावस्था में यह गति धीमी हो जाती है पुनः किशोरावस्था में विकास तीव्रतम गति से होती है। शैश्वावस्था एवं बाल्यावस्था में शारीरिक विकास सिर से पैर की ओर ‘ एवं ‘ निकट से दूर की ओर के नियमानुसार होता है।

6. मानव विकास क्षेत्रों में विभाजित किया जाता है जो है

( a ) शारीरिक, आध्यात्मिक संज्ञानात्मक और सामाजिक

(b ) शारीरिक, संज्ञानात्मक संवेगात्मक और सामाजिक

(c) संवेगात्मक, संज्ञानात्मक, आध्यात्मिक और सामाजिक मनोवैज्ञानिक

(d) मनोवैज्ञानिक, संज्ञानात्मक, संवेगात्मक और शारीरिक

Ans : (b ) मानव विकास को निम्न क्षेत्रों में विभाजित किया जाता है शारीरिक विकास, मानसिक विकास, भाषागत विकास, सामाजिक विकास संवेगात्मक विकास, नैतिक विकास आदि ।

7. गर्भ में बालक को विकसित होने में कितने दिन लगते हैं ?

(a) 150 (b) 280

(c) 390 (d) 640

Ans : (b ) सामान्यतः जन्म पूर्व काल की अवधि चालीस सप्ताह अथवा 280 दिन का होता है। जन्म पूर्व काल को तीन काल खण्डों डिम्बावस्था (Period of ovum), पिण्डावस्था ( Period of Jembryo) तथा भूणावस्था ( Period of fetus ) में बाँटा जा सकता है।

8. नवजात शिशु का भार होता है

(a) 6 पाउण्ड

(b ) 7 पाउण्ड

(c) 8 पाउण्ड

(d) 9 पाउण्ड

Ans : (b ) नवजात शिशु का भार लगभग 7.5 पाउण्ड (3.17 किलो.) होता है एवं इनकी लम्बाई 19.5 इंच होता है। इस अवस्था में वह माँ के दूध पर ही निर्भर रहता है
9. बालक का सामाजिक विकास प्रभावित होता है

(a) सामाजिक आर्थिक स्तर से

(b) विद्यालय से

(c) परिवार से

(d) इनमें से सभी से।

Ans : (d ) दिये गये विकल्पों में बालक का सामाजिक विकास सभी प्रभावित करते हैं । बालक पहले परिवार का सदस्य होता है, फिर वह विद्यालय जाता है वहाँ सीखता है तथा सामाजिक आर्थिक स्तर भी बालक के सामाजीकरण में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करते हैं।

 CDP question for CTET

10. जन्मोत्तर ( जन्म के बाद की) विकास की दूसरी प्रमुख अवस्था है

(a ) गर्भावस्था

(b ) शैशवावस्था

(c) किशोरावस्था

(d ) बाल्यावस्था

Ans : (b ) जन्म के विकास की अवस्था पहली अवस्था शैशवावस्था दूसरी अवस्था वाल्यावस्था तीसरी अवस्था किशोरावस्था
11. ‘खिलौनों की आयु कहा जाता है।

(a) पूर्व बाल्यावस्था को

(b) उत्तर बाल्यावस्था को

(c) शैशवावस्था को

(d) इनमें से सभी

Ans : ( a ) पूर्व बाल्यावस्था की आयु 36 वर्ष मानी जाती है। इस आयु वर्ग को ” खिलौनो की आयु ‘ कहा जाता है क्योंकि इस अवस्था में बालक अपने खिलौनों के साथ ही अपना

12. वयः सन्धि काल में निम्न में से कौन बाह्य अभिव्यक्ति नहीं है ?

( a ) प्रभुता / सत्ता के विपरीत विरोध

(b ) अशान्ति

(c) आत्मनिर्भरता के प्रति आग्रही

(d) सक्रिय खेलों के स्थान पर बैठे रह कर खेलना अधिक पसंद

Ans : (d ) वयः संधि एक सक्रमण काल होता है जो बाल्यावस्था तथा किशोरावस्था के मिश्रित गुणों से बनता है। इस अवस्था में बालक अस्थिर अशांत तथा विद्रोही स्वभाव का होता है। सक्रिय खेलो के साथ बैठ कर खेलना बाल्यावस्था के प्रमुख गुण होते है।
13 निम्न में से कौन सा बालकों के अधिगम एवं विकास में सबसे अधिक योगदान देता है ?

(a) परिवार, समवयस्क समूह और टेलीविजन (b ) परिवार, समवयस्क समूह और अध्यापक

(c) परिवार खेल एवं कम्प्यूटर (d) परिवार, खेल एवं पर्यटन

Ans : (b ) बालकों के अधिगम एवं विकास में सबसे अधिक योगदान परिवार, समवयस्क समूह और अध्यापक का होता है।

14. वृद्धि के बारे में क्या सही नहीं है ?

(a ) अभिवृद्धि शारीरिक होती है

(b ) अभिवृद्धि मात्रात्मक होती है।

(c) अभिवृद्धि मापनीय होती है

(d ) अभिवृद्धि जीवनपर्यन्त चलने वाली प्रक्रिया है

Ans : ( d ) वृद्धि ( Growth) विकास ( Development) का ही भाग होता है। वृद्धि विकास में समाहित होती है।
15. निरीक्षण विधि में किया जाता है

(a) अपना अध्ययन

(b) अपने व्यवहार का अध्ययन

(c) दूसरों के व्यवहारों का अध्ययन

(d) व्यवहार विश्लेषण

Ans : (c ) निरीक्षण प्रक्रिया में कोई व्यक्ति किसी दूसरे व्यक्ति के कार्यों की जांच का अध्ययन करता है। निरीक्षण में स्वयं का मूल्यांक करना पक्षपात पूर्ण होता है। इसलिए निरीक्षण विधि में दूसरों के व्यवहारों का अध्ययन किया जाता है ताकि जाँच पक्षपातपूर्ण न होकर तटस्थ रहे।

16. केस अध्ययन विधि के संबंध में क्या सही नहीं है।

(a ) यह एक वैज्ञानिक विधि है।

(b ) यह विधि बहु जटिल होती है।

(c) यह सरल और सस्ती होती है।

(d) यह कारण का पता लगाकर समस्याओं का निदान करती है।

Ans : (b ) केस अध्ययन एक वैज्ञानिक विधि है जिसके द्वारा किसी समस्या का समाधान किया जाता है। यह बहुत ही सरल एवं सस्ती विधि होती है। इसमें किसी घटना को उपकरण के रूप में प्रयोग किया जाता है।
17. निम्नलिखित में से कौन सा बाल विकास का एक सिद्धान्त नहीं है ?

(a) सभी विकास एक क्रम का पालन करते हैं

(b ) विकास के सभी क्षेत्र महत्वपूर्ण हैं

(c) सभी विकास परिपक्वन तथा अनुभव की अंतः क्रिया का परिणाम होते हैं

(d ) सभी विकास तथा अधिगम एक समान गति से आगे बढ़ते हैं ।

Ans : (d ) सभी विकास तथा अधिगम एक समान गति से आगे बढ़ते है, यह सिद्धान्त गलत है क्योंकि अधिगम व्यवहार में उत्तरोत्तर अनुकुलन की एक प्रक्रिया है जब कि विकास वृद्धि के फलस्वरूप शरीर के विभिन्न अंगों में आए परिवर्तनों के संगठन से है।

18. विकास……… से  ……………..की ओर बढ़ता है

(a ) सामान्य → विशिष्ट

(b ) जटिल → कठिन

(c) विशिष्ट → सामान्य

(d ) साधारण → आसान

Ans : ( a ) विकास सामान्य से विशिष्ट की ओर बढ़ता है। उदाहरणार्थ- नवजात शिशु अपने शरीर के किसी एक अंग का संचालन करने से पूर्व अपने शरीर का संचालन करता है और किसी विशेष वस्तु की ओर इशारा करने से पूर्व अपने हाथों को सामान्य रूप से चलाता है।
19. अपने आपको प्रेम करने की प्रवृत्ति को क्या कहते हैं ?

( a ) आत्मकेन्द्रित प्रवृत्ति

(b) अहंकारी प्रवृत्ति

(c ) नार्सिसिज्म की प्रवृत्ति

(d ) हिप्नोटिज्म की प्रवृत्ति

Ans : ( c ) मनोवैज्ञानिक फ्रायड ने यूनानी पौराणिक कथा के आधार पर स्वप्रेम की भावना के लिए नार्सिसिज्म (अर्थात् अपने आपको प्रेम करने की प्रवृत्ति) शब्द का प्रयोग किया है। पौराणिक कथा में नार्सिसिस्ट नामक व्यक्ति को अपने शरीर से प्रेम करते हुए दिखाया गया है। इस तरह की भावना शिशु में उच्च स्तर की होती है।

20. विकास कभी न समाप्त होने वाली प्रक्रिया है।” यह विचार किससे सम्बन्धित है?

(a ) अन्तः सम्बन्ध का सिद्धांत

(b) निरन्तरता का सिद्धांत

(c) एकीकरण का सिद्धांत

(d ) अन्तः क्रिया का सिद्धांत

 

Ans : (b ) विकास निरंतर चलने वाली प्रक्रिया है जो जन्म से मृ…
21. बाल विकास की कौन सी अवस्था में ओडीपस और इलेक्ट्रा जटिलता शुरू होती हैं

(a ) शैशवावस्था

(b) बाल्यावस्था

(c) किशोरावस्था

(d ) वयस्क अवस्था

Ans. ( a ) : फ्रायड (Freud ) के अनुसार शैशवावस्था में ही ओडिपस ( Oedipus ) व इलेक्ट्रा ( Electra ) ग्रन्थि का विकास हो जाता है। यह अवस्था 3 वर्ष से प्रारम्भ होकर 4 से 6 वर्ष की आयु तक चलती है। ओडिपस ( Oedipus) यह ग्रन्थि लड़कों में पाया जाता है। जिससे इनका अपनी माता के प्रति ज्यादा ममता, प्रेम इलेक्ट्रा ( Electra ) यह ग्रन्थि लड़कियों में पायी जाती है। जिसस प्रेम पिता के प्रति ज्यादा होता है। 

22. सामान्य पुरुष में XY गुणसूत्र होते है जबकि सामान्य महिला में……..होते हैं।

( a ) XX गुणसूत्र

(b ) XYY गुणसूत्र

(c) XXX गुणसूत्र

(d ) X गुणसूत्र

Ans : ( a ) सामान्य पुरुष में XY गुणसूत्र होते है जबकि सामान्य महिला में XX गुणसूत्र होता है। इन गुणसूत्रों से लिंग का निर्धारण किया जाता है
23. आनुवंशिकता को सामाजिक संरचना माना जाता है।

(a) गत्यात्मकता

(b ) स्थिर

(c) प्राथमिक

(d) गौण

Ans : (b ) वंशानुक्रम या आनुवांशिक गुण प्रत्येक व्यक्ति को अपने माता पिता से प्राप्त होता है जो कि स्थिर होता है। वातावरणीय प्रभाव से इन गुणों को दिशा व दशा मिलती है इसलिए वातावरण सामाजिक संरचना का गत्यात्मक पहलू है जबकि वंशानुक्रम स्थिर पहलू है।

24. प्रकृति पोषण विवाद निम्नलिखित में से किससे सम्बन्धित है ?

(a ) व्यवहार एवं वातावरण

(b) वातावरण एवं जीव विज्ञान

(c) वातावरण एवं पालन पोषण

(d ) आनुवांशिकी एवं वातावरण

Ans : ( d ) यहाँ पर प्रकृति शब्द व्यक्ति की आनुवांशिकी संरचना से संबंधित है, जो उसे जन्म से ही प्राप्त है तथा पोषण शब्द वातावरण से संबंधित है जिसमें व्यक्ति बृद्धि व विकास करता है। किसी भी व्यक्ति के विकास में इन दोनों का योगदान है। किन्तु वर्तमान में यह विवाद तेजी से उत्पन्न हुआ है कि व्यक्ति के व्यवहार पर किसका प्रभाव ज्यादा पड़ता है। यही विवाद प्रकृति पोषण विवाद के रूप में जाना जाता है।
25. ……….तथा………..की विशिष्ट अन्योन्यक्रिया का परिणाम विकास के विविध मार्गों और निष्कर्षो के रूप के में हो सकता है।

(a) खोज: पोषण

(b ) चुनौतियाँ : सीमाएं

(c) वंशानुक्रम : पर्यावरण

(d ) स्थिरता परिवर्तन

Ans : ( c ) बालक के सम्पूर्ण व्यवहार की सृष्टि वंशानुक्रम और वातावरण की अंतः क्रिया द्वारा होती है। मार्स एवं विंगो का मत है। ” मानव व्यवहार की प्रत्येक विशेषता वंशानुक्रम और वातावरण अन्योन्यक्रिया का फल है । ” इसलिए वंशानुक्रम तथा पर्यावरण विशिष्ट अन्योन्यक्रिया का परिणाम विकास के विविध मार्गों निष्कर्षों के रूप में हो सकता है।

26. जन्मजात वैयक्तिक गुणों का योगफल है।

(a) समानता

(b ) निरन्तरता

(c ) वंशानुक्रम

(d ) युयुत्सा

( Ans : (c ) आनुवंशिकता का विकास शारीरिक एवं मानसिक गुणों के संचरण से होता है जो माता पिता से बच्चों में जीन्स के माध्यम से प्रवेश करता है। इसी के द्वारा वंशानक्रम का निर्धारण भी होता है। इसलिए कहा जाता है कि वंशानुक्रम जन्मजात वैयक्तिक गुणा का योगफल है। वी. एन. झा के अनुसार वंशानुक्रम व्यक्ति का जन्मजात विशेषताओं का पूर्ण योग है।”
26. इनमें से किनका नाम सृजनशास्त्र के पिता से जुड़ा हुआ है ?

( a ) क्रो एवं क्रो

(b) गाल्टन

(c) रॉस

(d ) वुडवर्थ

Ans : (b ) गाल्टन को सृजनशास्त्र का पिता कहा जाता है। सृजन विज्ञान व्यवहारिक वंशानुक्रम की वह शाखा है जिसके अंतर्गत वंशानक्रम के सिद्धान्तों की सहायता से भावी पीढ़ियों को वंशानक्रम में प्राप्त होने वाले लक्षणों को नियंत्रित किया जाता है जिससे मानव जाति की नस्ल सुधर सके ।

27. निम्नलिखित में से कौन सा मुख्य रूप से आनुवंशिकता संबंधी कारण है ?

(a ) आँखों का रंग

(b ) सामाजिक गतिविधियों में भागीदारिता

(c) समकक्ष व्यक्तियों के समूह के प्रति अभिवृत्ति

(d) चिंतन पैटर्न

Ans : ( a ) आनवंशिकता के कारण आखा का रंग भरा. नीला या अन्य प्रकार का हो सकता है जबकि सामाजिक गतिविधियों में भागीदारिता, समकक्ष व्यक्तियों के समूह के प्रति अभिवृत्ति और चिंतन पैटर्न वातावरण के कारण प्रभावित होता है।
28. समाजीकरण है:

(a) सामाजिक मानदंडों में परिवर्तन

(b ) शिक्षक एवं पढ़ाए गए के बीच संबंध

(c) समाज के आधुनिकीकरण की प्रक्रिया

(d ) समाज के मानदंडों के साथ अनुकूलन

Ans : ( d ) व्यक्ति का समाज के मानदण्डों के साथ अनुकूलन हो । समाजीकरण है। अर्थात समाजीकरण वह प्रविधि है, जिसके द्वारा संस्कृति को एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी तक हस्तान्तरित किया जाता है। इसके माध्यम से मानव अपने समूह एवं समाज के मूल्यों, रीति रिवाजों, लोकाचारों, आदर्शों एवं सामाजिक उद्देश्यों को सीखता है। दूसरे शब्दों में यह कह सकते हैं कि समाजीकरण एक प्रक्रिया है जिसके द्वारा मानव को सामाजिक सांस्कृतिक संसार से परिचित कराया जाता है।

29. निम्न में से कौन सा समाजीकरण की निष्क्रिय एजेंसी है ?

( a ) परिवार

(b ) ईको क्लब

(c) सार्वजनिक पुस्तकालय

(d ) स्वास्थ्य क्लब

Ans : (c ) परिवार ईको क्लब व स्वास्थ क्लब सामाजीकरण की सक्रिय संस्थाएं हैं। जहाँ व्यक्ति दूसरों के साथ संप्रेषण के माध्यम से सामाजिक बनता है तथा अपने विचारों को दुसरो के साथ बाँटता है। परन्तु यह सार्वजनिक पुस्तकालय में अधिक सम्भव नहीं है।
30. विकास के लिये निम्नलिखित में से कौन सा एक उचित है ?

( a ) विकास जन्म के साथ प्रारम्भ होता है और समाप्त होता है।

(b ) सामाजिक सांस्कृतिक संदर्भ विकास में एक महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वाह करता है।

(c) विकास एकल आयामी है।

(d ) विकास पृथक होता है

Ans : (b ) विकास एक सतत चलने वाली प्रक्रिया है जो मनुष्य के जन्म से लेकर मृत्यु पर्यन्त चलती रहती है। विकास कई प्रकार से होते है शारीरिक विकास, मानसिक विकास, सामाजिक विकास, शैक्षिक विकास आदि । अतः सामाजिक एवं सांस्कृतिक संदर्भ में विकास में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वाह करता है।

Note :- इस पोस्ट में Ctet के महत्वपूर्ण 30 question दिए गए है जो  CDP Question for CTET के लिए आने बाले ctet 2023 के बहुत हीं importent है

1 thought on “ CDP Question for CTET | Child Development And Pedagogy MCQ |बाल विकास और शिक्षाशास्त्र 30 + महत्वपूर्ण प्रश्न ”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *